Mon. Nov 18th, 2019

अपने Blog या Website को गूगल पर No.1 Rank कैसे कराएं?

SEO के बारे में तो आपने जरूर सुना होगा। SEO का मतलब Search engine Optimization होता है। यह आपके ब्लॉग या वेबसाइट को Google पर नंबर वन रैंक कराने में काफी मददगार साबित होता है।

SEO को समझना इतना भी मुश्किल नहीं होता। अगर आपने इसे सीख लिया तो आप अपने ब्लॉग को बहुत ही बेहतर, बनाकर उसमें आप बढ़िया Organic Traffic ला सकते हैं। और अच्छी खासी इनकम भी कर सकते हैं। साथ ही में SEO आपके ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन में अच्छी रैंक भी दिलवा सकता है। जब भी आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग के के लिए SEO करते हैं, तो इसका रिजल्ट आपको तुरंत नहीं दिखेगा। लेकिन जैसे ही आपका ब्लॉग या वेबसाइट थोड़ा पुराना होने लगता है। तब आपको इसका रिजल्ट दिखेगा। एक कहावत है ना “धैर्य का फल मीठा होता है” और काम आप करते रहिए। इसका रिजल्ट आपको जरूर बेहतर मिलेगा।


SEO दो तरह के होते हैं। On -site SEO और Off-SITE SEO। अगर आपको गूगल पर अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को नंबर वन रैंक करवाना है तो इन दोनों के बारे में ही आपको जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। तभी आप गूगल पर नंबर वन रैंक कर सकते हैं। दोनों ही तरह के SEO के बारे में हम लोग नीचे विस्तार से समझेंगे।

On-Site SEO क्या होता है?

On-Site SEO आप ऑनलाइन वेबसाइट पर किया गया WORK होता है। WORK से मेरा मतलब यह है कि, आपका ब्लॉग या वेबसाइट का डिजाइन सही होना चाहिए। SEO Friendly होना चाहिए। जो कि SEO के रूल्स को फॉलो करना वाला होना चाहिए। आपके वेबसाइट में मौजूद कंटेंट और पोस्ट पर सही keywords का इस्तेमाल हुआ हो। आपके वेबसाइट पर या ब्लॉग पर कुछ महत्वपूर्ण चीजें जैसे, Title, Meta description,Content आदि में Keywords का इस्तेमाल हुआ हो। तभी कोई बंदा अगर गूगल पर कुछ सर्च करेगा, तो गूगल आपका कांटेक्ट किसके ऊपर लिखा गया है और जल्दी आपके वेबसाइट को गूगल पेज पर रैंक करने में मदद करता है। जिससे आपके ब्लॉग की traffic बढ़ जाती है।

अपने वेबसाइट पर ON-SITE SEO आप कैसे कर सकते हैं?

यहां पर हम यह बताएंगे कि, आप अपने वेबसाइट और ब्लॉग पर किस तरह के टेक्निक्स अपना करके। अपने वेबसाइट को SEO फ्रेंडली बना सकते हैं। और अपने वेबसाइट पर ON-SITE SEO कर सकते हैं।

  • आप को सबसे पहला काम अपनी वेबसाइट का WEBSITE SPEED अच्छी होनी चाहिए। ऐसा इसलिए है, क्योंकि ज्यादातर ऐसा देखा गया है कि अगर आप की वेबसाइट की वेबसाइट स्पीड अच्छी नहीं रहेगी। तो ज्यादातर विजिटर्स दूसरे वेबसाइट की तरफ माइग्रेट करने लगते हैं। और ठीक यही चीज गूगल भी करता है। अगर आपकी वेबसाइट ,वेबसाइट स्पीड अच्छी नहीं रहेगी। तो गूगल यह समझने लगता है कि या वेबसाइट इतनी खास नहीं है। और आपके वेबसाइट को शो नहीं करता।
  • आप अपने वेबसाइट की स्पीड अच्छी करने के लिए, सिंपल और लाइट TEMPLATE थीम का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप की वेबसाइट wordpress.com पर है तो आप कम से कम plug-in का इस्तेमाल करें। आपका वेबसाइट सिंपल और अट्रैक्टिव होना चाहिए। आपके वेबसाइट में अपलोडेड इमेज का साइज कम होना चाहिए। ताकि वह जल्दी से खुल जाए। इसके अलावा आप कुछ plug-ins जैसे कि W3 TOTAL CACHE, WP Super Cache, Cache Filter, जैसे plug-ins को अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • Website की Navigation आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर नेविगेशन अच्छा होना चाहिए। ताकि विजिटर आसानी से एक पेज से दूसरे पेज तक पहुंच सके। उसे एक पेज से दूसरे पेज तक नेविगेट करने में परेशानी ना हो।
  • Title Tag यह भी एक महत्वपूर्ण चीज है, आप अपने वेबसाइट पर टाइटल टैग अच्छा बनाएं। जिससे कोई विजिटर उसे पड़े तो उसे जल्द से जल्द आपके टाइटल पर क्लिक कर दें। टाइटल टैग बनाते वक्त आपको इस बात का ध्यान रखना है कि वह 65 words से ज्यादा ना हो। कम शब्दों वाला और आकर्षक हो। इसका फायदा यह होगा कि गूगल पर आप का टाइटल टैग पूरा का पूरा सर्च हो पाएगा।
  • Interlink या Internal Link यह टूल भी आप के वेबसाइट को रंग करवाने के लिए बहुत ही जरूरी है। इसकी मदद से आप अपने वेबसाइट पर मौजूद एक दूसरे पेज को interlinking करवा सकते हैं। इससे आपके सभी इंटरलिंक पेज एक साथ आसानी से गूगल पर रैंक कर सकती है।
  • जब भी आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर कोई इमेज डालना होता है। तब आप उस इमेज में ALT TAG का इस्तेमाल जरूर करें। क्योंकि इससे गूगल पर आपकी इमेज भी सर्च होती है। इसकी मदद से आप की वेबसाइट पर अच्छी ट्रैफिक भी आ सकती है।
  • Content, Heading, और keyword का इस्तेमाल आप अपने ब्लॉग पोस्ट पर अच्छी तरह से करें। यह तीनों आपके वेबसाइट को अच्छी रैंक दिलाने के लिए काफी मददगार साबित होते हैं। आप हमेशा यह ध्यान रखें कि आपके वेबसाइट या ब्लॉग पर लिखा गया पोस्ट या कंटेंट कम से कम 800 शब्दों से ज्यादा हो। इसके अलावा आप अपने keyword पर ध्यान दे सकते हैं। आर्टिकल लिखते वक्त LSI KEYWORDS का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आप लोगों के सर्च को आसानी से लिंक कर सकते हैं।

तो यह थे कुछ टिप्स जिनकी मदद से आप अपने वेबसाइट की On-Site Seo कर सकते हैं।

Off-Site SEO क्या होता है?

Off-Site SEO मैं ज्यादातर काम आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट से बाहर करते हैं। कहने का मतलब यह है कि, आप दूसरे वेबसाइट पर जाकर के जैसे कि SOCIAL मीडिया वेबसाइट, वहां पर जा कर के आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए एक पेज बनाते हैं। ताकि लोगों के पास आप की जानकारी आसानी तक पहुंच सके। यह आपके लिए फायदेमंद भी है क्योंकि सोशल मीडिया से ट्राफिक सीधे आपके ब्लॉग पर पहुंचती है। यहां पर आपको बहुत सारे काम करने होते हैं जैसे कि आपने ब्लॉक किया वेबसाइट का प्रमोशन करना। अपने वेबसाइट के लिए फॉर फॉलोअर्स बढ़ाना। जैसे बहुत सारे काम। लेकिन सबसे बड़ा सवाल तो यह खड़ा होता है कि आप अपना वेबसाइट या ब्लॉग के लिए Off-Site SEO कैसे कर सकते हैं?

Off-Site SEO कैसे कर सकते हैं?

  • Off-Site SEO करने के लिए सबसे पहला काम आपके लिए, website submission करने का होता है। जितने भी बड़े बड़े सर्च इंजन है जैसे कि, Google, Bing और Yahoo पर आप अपना वेबसाइट को सबमिट जरूर करें।
  • इसके साथ ही आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट को Directory मैं सबमिशन भी जरूर करें। इसके साथ ही आप बुक मार्किंग वाली वेबसाइट पर भी अपना वेबसाइट सम्मिट जरूर करें।
  • अपने वेबसाइट या ब्लॉग के लिए आप सोशल मीडिया पर एक पेज जरूर बनाएं। मेरा आपको सलाह या रहेगा कि हर सोशल मीडिया पर आप अपने वेबसाइट का एक पेज जरूर बना कर रखें।
  • आप अपने वेबसाइट से मिलते-जुलते वेबसाइट पर जाकर के कमेंट कर सकते हैं। कमेंट करते हो आप अपने वेबसाइट का लिंक भी डाल सकते हैं। इससे आपको Do follow link मिलता है।
  • आप अपने वेबसाइट से रिलेटेड ब्लॉग पर जाकर के गेस्ट पोस्ट भी लिख सकते हैं। इससे भी आपको डू फॉलो लिंक मिलता है।
  • BACK LINK किसे सिंपल लिंक भी कहा जाता है। यह एक hyper link होता है जो आपके वेबसाइट की तरफ दूसरे वेबसाइट से लिंक आपके वेबसाइट पर इशारा करता है। गूगल पर रैंक करने के लिए या फिर सर्च इंजन में रैंक करने के लिए, काफी जरूरी होता है।
  • सर्च इंजन algorithim इससे हम यह पता कर सकते हैं कि पूरे इंटरनेट में कौन-कौन से वेब पेज रिलेवेंट हैं। लगभग 200 algorithms काम करती है। साथ ही में कीवर्ड डेंसिटी से ये भी पता चलता है कि कितनी बार कोई भी कीवर्ड आर्टिकल में इस्तेमाल हुआ है।

तो दोस्तो यह थी SEO के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी। जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट को गूगल पर नंबर वन रैंकिंग करवा सकते हैं। अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप हमारे इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं। इससे रिलेटेड आपके कुछ सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *